स्वास्थ्य मंत्री हिमंता विश्व सरमा और विभागीय राज्य मंत्री पीयूष हजारिका ने बंगाईगांव जिले का दौरा कर कोविड 19 से निपटने की विभिन्न तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान जिले के पॉजिटिव पाए गए पांचों मरीजों का बेहतर इलाज करने की चिकित्सकों को हिदायत भी दी। डॉ. सरमा ने कहा कि बंगाईगांव चूंकि कंटेनमें जोन है तो यहां लॉकतडाउन के सभी नियमों का कड़ाई से पालन करना जरूरी है।

उन्होंने इस दौरान बंगाईगांव सिविल अस्पताल का भी दौरा किया और ताजा स्थिति की जानकारी ली। इस दौरान स्थानीय विधायक तथा आपूर्ति मंत्री फणिभूषण चौधरी और जिला उपायुक्त एसएस लक्ष्मीप्रिया भी साथ रहीं। बंगाईगांव जिले का पहला कोविड 19 मामला सामने आया है। पिछले दिनों 16 साल की एवती आफिया तबस्मुम जो कि धुबड़ी जिले के चापर निवासी निजामुद्दी से लौटे जमालुद्दीन हाजी की नातिन है। इसके अपने नाना के संपर्क में आने के 21 दिन बाद पॉजिटिव पाया गया। 

आफिया फिलहाल जीएमसीएच में भर्ती है। मालूम हो कि निजामुद्दीन से लौटे जमालुद्दीन हाजी के संपर्क में आने के बाद स्थानीय प्रशासन ने एक अप्रैल को मानिकपुर के लुंगजार गांव के एक ही परिवार के 6 लोगों को घर पर ही क्वारंटाइन किया था। यह परिवार कोविड 19 पॉजिटिव जमालुद्दीन की बेटी और जमाई का था।