असम विधानसभा के आगामी चुनाव से पहले ही असम कांग्रेस ने भगवा पार्टी के CAA कार्यान्वयन योजनाओं को लेकर भाजपा से स्पष्टीकरण मांगा है। असम कांग्रेस द्वारा भाजपा से स्पष्टीकरण मांगने के कुछ ही घंटे बाद भगवा पार्टी ने पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। भाजपा ने पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए अपने घोषणा पत्र में, भगवा ब्रिगेड ने घोषणा की है कि वह नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) को लागू करेगी।


CAA को लागू करने की घोषणा पर असम में विभिन्न संगठनों द्वारा और कांग्रेस सहित विपक्षी दलों द्वारा जोरदार विरोध किया गया है। भाजपा से स्पष्टीकरण मांगते हुए असम कांग्रेस नेता और लोकसभा सांसद गौरव गोगोई ने भगवा पार्टी से असम में CAA के कार्यान्वयन पर अपना रुख स्पष्ट करने को कहा है। भाजपा ने पश्चिम बंगाल में अपने घोषणा पत्र में सीएए को लागू करने का वादा किया है।

असम के कांग्रेस उम्मीदवार गौरव गोगोई ने पूछा क्या बीजेपी स्पष्ट कर सकती है कि क्या वे बंगाल में सीएए लागू करने की योजना बना रहे हैं लेकिन असम में नहीं? दूसरे शब्दों में, क्या वे कांग्रेस के कानून की गारंटी से सहमत हैं जो असम में सीएए को रद्द कर देगा? ” । दूसरी ओर, कांग्रेस यह कहती रही है कि अगर वह सत्ता में आती है तो वह असम में CAA को लागू नहीं होने देगी। असम में कांग्रेस ने 'गारंटी' के साथ CAA को लागू ना करे का वादा किया है।