असम में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां तेज होने के बीच कर्नाटक के बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या ने रविवार को एक रैली के दौरान विवादित बयान दिया। डिब्रूगढ़ जिले की रैली में सूर्या ने कांग्रेस के गठबंधन करने वाली बदरुद्दीन अजमल की पार्टी एआईयूडीएफ को मुगलों जैसा बताया।

सूर्या ने कहा कि कांग्रेस AIUDF chief बदरुद्दीन अजमल की कठपुतली है, जो मुगलों के प्रतिनिधि हैं। बीजेपी सांसद ने कहा कि हमें उन्हें बाहर का रास्ता दिखाकर नया असम बनाना होगा। चुनाव आयोग द्वारा शुक्रवार को चुनाव की घोषणा के बाद भाजयुमो के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या की यह पहली रैली थी। असम में तीन चरणों का चुनाव 27 मार्च से शुरू होगा।

बीजेपी इस चुनाव में युवा पुरुषों और महिलाओं को अपनी ओर आकर्षित करने की कोशिश में लगी हुई है। तेजस्वी सूर्या को सुनने के लिए असम के निचले इलाकों से डिब्रूगढ़ पहुंचे थे। असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, कैबिनेट मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा और केंद्रीय मंत्री रामेश्वर तेली भी इस कार्यक्रम में मौजूद थे।

सूर्या ने चुनावी रैली से पहले असम में मां कामाख्या के दर्शन भी किए। उन्होंने मंदिर की तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा कि यह खूबसूरत असम का उनका पहला दौरा है। इससे पहले तमिलनाडु में तेजस्वी सूर्या डीएमके को हिंदू विरोधी बता चुके हैं। तमिलनाडु में 6 अप्रैल को मतदान होना है।बीजेपी सांसद ने दावा किया कि उनकी पार्टी के शासन में असम में विकास की नई धारा बही है।