असम में बाढ़ ने त्राही त्राही मचा दी है। हजारों की तादात में लोगों को विस्थापित किया गया है। राहत शिविरों में शरण दी गई है। बाढ़ से कई लोगों की मौत भी हो चुकी है। इसी बाढ़ की स्थिति का मुआइना करने मुख्यमंत्री हेलिकॉप्टर से निकले हैं।



उन्होंने कछार जिले के सिलचर और आसपास के इलाकों की बाढ़ की स्थिति को समझने के लिए आज आकाश सर्वेक्षण किया। साथ ही सिलचर में कई बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया और जनता से चर्चा की। स्थिति को समझने के बाद हमने जिला प्रशासन के साथ समीक्षा बैठक की और बाढ़ पीड़ितों को सभी सुविधाएं मुहैया कराने के निर्देश दिए।


दौरे के दौरान, माननीय सांसद डॉ. राजदीप रॉय, कछार जिले के माननीय उपायुक्त, दक्षिण असम जोन के पुलिस अधीक्षक, उपाधीक्षक के साथ थे। बाढ़ राहत और बचाव कार्यों का जायजा लेने के लिए डीसी कार्यालय, कछार में विभिन्न सरकारी विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता की।

जिला प्रशासन को सिलचर कस्बे के लिए स्थानीय लोगों एवं जनप्रतिनिधियों के सहयोग से वार्डवार सूक्ष्म स्तरीय योजना तैयार करने के निर्देश दिये।