असम में प्राकृतिक आपदा से ग्रसित लोगों से मिलने के लिए मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने राहत शिविरों का दौरा किया है। उन्होंने कहा कि समय जनता के दुख को कम करने के लिए हम हर समय प्रयास करते रहते हैं। बाढ़ प्रभावित नलबाड़ी जिले के नमाती मध्य अंग्रेजी विद्यालय और 1 नंबर नमती प्राथमिक विद्यालय परिसर में स्थापित आश्रय शिविर का आज दौरा किया।


आगे कहा कि आइये बाढ़ प्रभावितों की स्थिति को समझते हैं। बच्चों सहित सभी वर्गों के आश्रय स्थल नियमित रूप से राहत सामग्री ठीक से मिलती है या नहीं।
शिविर निरीक्षण के दौरान सहयोगी मंत्री श्री जयंता मल्लबरुआ, माननीय सांसद श्रीदिलीप सैकिया, नलबाड़ी जिला के माननीय उपायुक्त श्रीगीतिमणि फुकन उपस्थित थे।

हिमंता ने बताया कि हमने हाल ही में बाढ़ के इस समय में पीड़ितों की संभव मदद बढ़ाने को प्राथमिकता दी है। आज शाम संसारी उच्च माध्यमिक विद्यालय में जाकर आश्रय शिविर का दौरा किया। शिविर में कई माताओं और अन्य बाढ़ प्रभावित लोगों से बातचीत कर उनकी स्थिति को समझा। शिविर के निरीक्षण के दौरान कामरूप जिले के माननीय उपायुक्त श्री कैलाश कार्तिक एन उपस्थित थे।