असम विधानसभा (Assam Assembly) में विपक्ष के नेता, देवव्रत सैकिया ने सवाल किया कि शशिकांत दास भाजपा से गामुसा स्वीकार करने के बाद कांग्रेस के सदस्य कैसे बने रह सकते हैं? देबब्रत सैकिया (Debabrata Saikia) ने यह बात राहा विधायक शशिकांत दास की असम के मुख्यमंत्री के साथ बैठक और स्मृति चिन्हों के आदान-प्रदान के बाद कही।

बताया जा रहा है कि कांग्रेस के विधायक जल्द ही BJP में शामिल हो सकते हैं लेकिन दास ने दावों का खंडन किया था। दास ने मीडिया को बताया कि उन्होंने केवल मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी और गामुसा का आदान-प्रदान किया था, जो वे घर लाए थे क्योंकि वे विकास से जुड़ी चीजों पर चर्चा करने वाले थे।

दास ने यह भी दावा किया कि उनका भाजपा में शामिल होने का कोई इरादा नहीं था। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए, देवव्रत सैकिया (Debabrata Saikia) ने कहा कि "मुझे समझ में नहीं आता कि कोई भाजपा से संबंधित गामुसा पहनने के बाद भी कांग्रेस का सदस्य कैसे हो सकता है।"