यूथ बॉक्सिंग की वर्ल्ड चैंपियन और कोटा की बॉक्सर अरुधंति चौधरी (Arundhanti Choudhary, the world champion of youth boxing and boxer of Kota) ने टोक्यो ओलिंपिक की ब्रॉन्ज मैडल विजेता लवलीना (Tokyo Olympics bronze medalist Lovlina) के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। 

अरुंधति (Arundhanti) ने आरोप लगाया है कि इस्तांबुल में होने वाली सीनियर वर्ग की वर्ल्ड चैम्पियनशिप में बिना ट्रायल के लवलीना (Lovlina) का चयन किया गया है। बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (Boxing Federation of India) ने निर्णय वापस नहीं लिया तो वह कोर्ट में केस करेंगी।

अरुंधति (Arundhanti) लगातार 6 इंटरनेशनल गोल्ड व 1 सिल्वर जीत चुकी हैं। हाल में हुई सीनियर नेशनल चैंपियनशिप में गोल्ड जीता है।

ट्रायल से तय हो

अरुंधति ने कहा- 2019 में ओलिंपिक ट्रायल के समय यूथ वर्ग में होने के कारण मुझे ट्रायल में नहीं लिया गया, लेकिन अब में सीनियर वर्ग में हूं। यदि फेडरेशन को लवलीना में ज्यादा काबिलियत दिख रही है तो ट्रायल से क्यों डर रहा है? ट्रायल के आधार पर दोनों में से जो भी बेस्ट नजर आए, उसे देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिले।