राज्य भारतीय जनता पार्टी (BJP) इकाई के अध्यक्ष भाबेश कलिता ने भविष्यवाणी की है कि जहां उनकी पार्टी 6 मार्च को होने वाले नगरपालिका बोर्ड चुनावों में बहुमत हासिल करेगी, वहीं परिणाम विजेताओं में विपक्षी उम्मीदवारों की अनुपस्थिति का गवाह बनेगा।


मीडिया से बात करते हुए, Bhabesh Kalita ने कहा कि भाजपा राज्य भर के 80 नगरपालिका बोर्डों में अपने सहयोगियों के साथ 976 वार्डों में चुनाव लड़ रही है और "हम पहले ही 61 सीटें निर्विरोध जीत चुके हैं।" कलिता ने कहा कि उन्होंने चुनाव प्रचार के दौरान विभिन्न शहरों का दौरा किया और पिछले छह वर्षों में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा किए गए शहरी विकास उपायों के परिणाम सभी के सामने हैं।

यह भी पढ़ें- यूक्रेन के सूमी क्षेत्र फंसे असम के छात्रों ने ट्वीट कर पीएम मोदी से की निकालने की मांग
उन्होंने कहा कि "विभिन्न विकास और कल्याणकारी गतिविधियों के लिए हर जगह भाजपा सरकार की प्रशंसा हो रही है।" कलिता ने कहा कि भाजपा वोट मांग रही है ताकि आने वाले समय में शहरी विकास की गति तेज कर सके और इन क्षेत्रों का तेजी से आधुनिकीकरण और विकास सुनिश्चित हो सके।
Bhabesh Kalita ने कहा कि उन्हें विपक्ष मुक्त परिणाम की उम्मीद है क्योंकि कांग्रेस को निकाय चुनाव लड़ने के लिए उम्मीदवारों को ढूंढना मुश्किल हो रहा है। उन्होंने कहा कि "कांग्रेस न केवल जनता से अलग हो गई है, बल्कि उसने अपना संगठनात्मक आधार भी खो दिया है।"

यह भी पढ़ें- Manipur की वांगजिंग-तेंथा AC में BJP worker को 3 गोली मारकर हत्या, दूसरे का जलाया

कलिता ने कहा कि यह शर्म की बात है कि भारत की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी अब अपनी प्रासंगिकता खो चुकी है। उन्होंने कहा कि अन्य विपक्षी दल केवल मीडिया में मौजूद हैं न कि राजनीतिक क्षेत्र में।