असम विधान सभा चुनावों से पहले भाजपा ने बड़ा दांव खेलते हुए BPF से दोस्ती तोड़कर UPPL से हाथ मिला लिया है। आपको बता दें कि असम बोडो बहुल Bodoland Territorial Council (BTC) चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। किंग मेकर के रूप में उभरी बीजेपी ने BTC में जरूरी बहुमत हासिल करने के लिए वर्तमान सहयोगी बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (BPF) को छोड़कर रविवार को नए सहयोगी दलों यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (UPPL) और गण सुरक्षा पार्टी (GSP) से हाथ मिला लिया है।

40 सदस्यीय Bodoland Territorial Council (BTC) के लिए रविवार को घोषित हुए चुनावी नतीजे में BPF को 17, यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (UPPL) को 12 और बीजेपी (BJP) को 9 सीटें हासिल हुई। जबकि कांग्रेस और निर्दलीय को एक-एक सीट प्राप्त हुई। BTC चेयरमैन का पद जीतने के लिए 21 सदस्यों का जादुई आंकड़ा पाना जरूरी होता है। ऐसे में बीजेपी किंग मेकर की भूमिका में है।
असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि अगले BTC का संयुक्त रूप से गठन करने के लिए बीजेपी ने UPPL और GSP के साथ हाथ मिलाने का फैसला किया है। तीनों दलों के प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक के बाद सोनोवाल ने कहा कि 40 सदस्यीय नई परिषद की अध्यक्षता UPPL के प्रमुख प्रमोद बोडो करेंगे।