गुवाहाटी। असम सरकार (Assam Government) ने मंगलवार से कोरोना वायरस (Covrona virus) महामारी संबंधी सभी प्रतिबंध हटा लिये हैं। जहां महामारी की शुरुआत के बाद से 25 मार्च, 2020 से लॉकडाउन लगाने का सिलसिला जारी था। उन्होंने का दावा है कि वह देश का ऐसा पहला राज्य है जहां कोरोना संबंधी सारे प्रतिबंध हटा लिये गये हैं। अधिकारियों ने बताया कि सभी प्रतिबंध मंगलवार सुबह छह बजे से हटा लिये गए हैं और इसी के साथ रात्रि कफ्र्यू, सामाजिक-धार्मिक समारोहों, शैक्षिक संस्थानों ओर अन्य से प्रतिबंध हटाया जा रहा है। 

एक आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार हालांकि भीड़ भाड वाले इलाकों में मास्क पहनना, सामाजिक दूरी का पालन करना, बार-बार हाथ धोने का अभी भी अगले आदेश तक पालन करना होगा। आदेश में कहा गया, सार्वजनिक स्थान पर मास्क नहीं पहनने और थूकने वाले किसी भी व्यक्ति पर 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया जायेगा। इसी दौरान सभी जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों को राज्य में पॉजिटिव मामलों में वृद्धि को रोकने के लिये लोगों से कोरोना उपयुक्त व्यवहारों का पालन करवाने के लिये अत्यधिक सतर्कता सुनिश्चित करवाने की बात कही है। 

अधिकारियों ने कहा कि राज्य में शिक्षा विभाग द्वारा स्कूल-कॉलेजों में ऑफलाइन पढ़ाई के लिये नये सिरे से दिशा-निर्देश जारी किये जाएंगे। इस नये आदेश के तहत हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों, सड़क सीमा बिंदुओं और अस्पतालों में वायरस के लिए अनिवार्य परीक्षण को भी आज से रोक लगा दिया गया है। उल्लेखनीय है कि गैर-टीकाकृत व्यक्तियों को अभी भी अस्पतालों के अलावा अन्य किसी भी सार्वजनिक स्थान पर प्रवेश करने की अनुमित नहीं दी जायेगी और सभी को टीकाकरण प्रमाण पत्र अपने साथ में लेकर चलना होगा। असम में मार्च, 2020 से अब तक कोरोना के 2,82,39,192 मामले दर्ज किये जा चुके हैं। राज्य में इस वक्त मामलों की सक्रमण दर 0.61 फीसदी है, जबकि सक्रिय मामलों की संख्या 2,292 है।