बगलामुखी माता का विशेष मंदिर भारत के मध्यप्रदेश राज्य में स्थित है। लेकिन इस देवी की पूजा आप असम में भी कर सकते हैं। इस देवी की पूजा हनुमान चालीसा की तरह ही बगलामुखी चालीसा के रूप में की जाती है।


आपको बता दें कि पूर्वोत्तर भारत के राज्य असम में देवी शक्ति के ही एक रूप में कामाख्या देवी का विश्व प्रसिद्ध मंदिर है। इस मंदिर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर राज्य के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्व सरमा समेत देश की तमाम जानी—मानी हस्तियां दर्शन करने के लिए जाती रहती हैं।



इसी मंदिर के ठीक पास में पहाड़ी बगलामुखी देवी की का मंदिर भी स्थित है। इसको बगुलामुखी माता भी कहा जाता है। ऐसे में आप Baglamukhi Puja और Baglamukhi Mantra Japa यहां यानि Kamakhya Devi Temple के में भी कर सकते हैं। आपको बता दें कि Kamakhya Devi Temple असम के सबसे बड़े शहर और आर्थिक राजनीधी Guwahati में स्थित है, उसी शहर में बगुलामाता मंदिर भी है।



आपकेा बता दें कि Baglamukhi Devi Puja करना बेहद ही फलदायी और उत्तम मनी गयी है जिससें भक्तों की हर मनोकामना पूरी होती है। मां कामाख्या देवी का यह मंदिर नीलाचल पर्वत पर स्थित है जिनके साथ ही देवी बगलामुखी भी विराजमान है। ऐसे में आप यहां मां कामाख्या देवी के साथ ही देवी मां बगलामुखी की पूजा करके आर्शीवाद प्राप्त कर सकते हैं।