रेलवे ट्रैक (railway track) पर इंटरलॉकिंग (interlocking) कार्य होने की वजह से बीकानेर से हरिद्वार जाने वाली ट्रेन 26 व 28 अक्तूबर को रद्द रहेगी। वहीं, लालगढ़ से डिब्रूगढ़ तक चलने वाली अवध असम एक्सप्रेस (Avadh Assam Express) तीन दिसंबर से 75 दिन तक रद्द रहेगी। इसकी वजह सर्दी में पड़ने वाला घना कोहरा है।

रोहतक से सुबह करीब सात बजे हरिद्वार के लिए ट्रेन चलती है, जो हरिद्वार से रात 11:05 बजे लौटकर आती है। इस ट्रेन का संचालन बीकानेर से हरिद्वार के बीच होता है। मुरादाबाद और लश्कर जंक्शन के बीच रेल ट्रैक पर 26 व 28 अक्तूबर को इंटरलॉकिंग का काम किया जाएगा। इससे दोनों ही दिन ट्रेन का संचालन रद्द रहेगा। वहीं, लालगढ़ से डिब्रूगढ़ (Lalgarh to Dibrugarh) के बीच चलने वाली अवध असम एक्सप्रेस (Avadh Assam Express) को 68 घंटे में 3118 किमी. का सफर तय करना पड़ता है।

सर्दी में घना कोहरा होने की वजह से ट्रेन गंतव्य तक पहुंचते-पहुंचते 15 से 20 घंटे तक लेट हो जाती है। चूंकि ट्रेन लंबी दूरी की है, इसलिए रास्ते में रद्द नहीं किया जा सकता। सर्दी में इस तरह की दिक्कत आने की वजह से रेलवे प्रशासन ने तीन दिसंबर से 15 फरवरी तक अवध असम एक्सप्रेस को रद्द कर दिया है। 

आरक्षण केंद्र इंचार्ज रमेश सैनी ने बताया कि मुरादाबाद जंक्शन से लश्कर जंक्शन के बीच में पटरियों पर इंटरलॉकिंग होने की वजह से हरिद्वार जाने वाली ट्रेन 26 व 28 अक्तूबर को रद्द कर दी गई है। अवध असम एक्सप्रेस सर्दी में 15-20 घंटे तक लेट हो जाती है, इसलिए तीन दिसंबर से 15 फरवरी तक रद्द कर दी गई है।