असम के स्वास्थ्य मंत्री केशाब महंता (Assam Health Minister Keshab Mahanta) ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीन (covid-19 vaccine) की दोनों खुराक से टीकाकृत नहीं होने वाले लोगों को राज्य सरकार की सभी योजनाओं से वंचित कर दिया जाएगा।

रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने कहा कि अगले महीने (नवंबर) से लाभार्थियों को योजनाओं का लाभ देने के दौरान हम लोगों की टीकाकरण की स्थिति देखेंगे। मंत्री ने यह भी कहा कि सरकार ने 18 साल और उससे अधिक उम्र के 3 करोड़ लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा है।

अगस्त 2019 में प्रकाशित राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NPR) के मसौदे के अनुसार, असम (Assam) में 3.3 करोड़ लोग हैं।

असम के स्वास्थ्य सेवाओं के निदेशक मुनिंद्रा नाथ नगाटे ने कहा कि एक तबके के लोगों में वैक्सीन को लेकर संदेह सरकार के लिए चिंता का विषय बना हुआ है।

उन्होंने कहा कि अनुमानित तौर असम की 85 फीसदी वयस्क आबादी को टीके की पहली खुराक लग चुकी है। राज्य में फिलहाल 2535 कोविड-19 मामले हैं।