असम पुलिस ने राज्य में माओवादियों के साथ कथित संबंध रखने के आरोप में एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार व्यक्ति की पहचान हृदय कलिता के रूप में हुई है। कलिता को असम पुलिस की अपराध शाखा ने कामरूप जिले के गुवाहाटी शहर के पास चायगांव इलाके से गिरफ्तार किया था।

यह भी पढ़े : Sri Lanka crisis: जयसूर्या ने भारत को बताया 'बड़ा भाई', अर्जुन राणातुंगा, कुमार संगकारा ने भारत से लगाई गुहार


ताजा रिपोर्ट्स के मुताबिक, गिरफ्तार शख्स से क्राइम ब्रांच के अधिकारी पूछताछ कर रहे हैं। हृदय कलिता की गिरफ्तारी राज्य और पूरे पूर्वोत्तर में माओवादियों की जड़ें फैलाने के खतरे को रोकने के लिए असम पुलिस द्वारा शुरू की गई कार्रवाई का हिस्सा है।

इससे पहले बुधवार को असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा था कि राज्य पुलिस असम में माओवादियों द्वारा आधार स्थापित करने के प्रयास की तीसरी लहर से निपट रही है।

यह भी पढ़े : हिजाब विवाद : बोले असम CM- अल-कायदा कभी भी यूनिफॉर्म के महत्व को नहीं समझेगा, भारतीय मुस्लिम जवाहिरी के आह्वान पर ध्यान नहीं देंगे


असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि माओवादियों द्वारा असम में आधार स्थापित करने के ऐसे प्रयास किए गए थे। यह तीसरी लहर है। 2008 और 2013-14 में भी इसी तरह के प्रयास हुए थे, 

सीएम सरमा ने आगे उम्मीद जताई कि असम में माओवादी नेटवर्क जल्द ही 'बेअसर' हो जाएगा।

हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि एनआईए और असम पुलिस दोनों माओवादियों से सहानुभूति रखने वालों और समर्थकों के पूरे नेटवर्क का पता लगाने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। हम पहले ही कुछ लोगों को गिरफ्तार कर चुके हैं। हम बहुत जल्द नेटवर्क को बेअसर कर देंगे। 

यह भी पढ़े : Mangal Rashi Parivartan : मंगल का राशि परिवर्तन आज, इन राशि वालों को शुभ फल की प्राप्ति होगी


7 मार्च को, असम पुलिस ने एक बड़ी सफलता में सीपीआई-माओवादी की केंद्रीय समिति के सदस्य अरुण कुमार भट्टाचार्जी उर्फ ​​​​कंचन दा को गिरफ्तार किया।

कंचन दा को असम के कछार जिले से गिरफ्तार किया गया था जहां से वह कथित तौर पर राज्य की बराक घाटी में माओवादियों का ठिकाना बनाने की कोशिश कर रहा था।