कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच असम सरकार ने फैसला लिया है कि जिन जिलों में 100 से अधिक कोरोना वायरस के मामले हैं, वहां सभी निचले प्राथमिक विद्यालय बंद रहेंगे। रविवार को असम सरकार ने ये आदेश जारी किया है। राज्य शिक्षा विभाग ने उन जिलों में सभी निचले प्राथमिक स्कूलों कक्षा पांचवी तक के लिए बंद करने के लिए कहा गया है। 

असम के स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्री, हिमंत बिस्वा सरमा ने अपने ट्विटर हैंडल पर इसके बारे में अधिक जानकारी देते हुए बताया कि उन जिलों में, जहां सक्रिय मामलों की कुल संख्या 100 से कम है, वहां प्राथमिक स्कूलों को खोलने की अनुमति है। लेकिन, उन सभी को राज्य शिक्षा विभाग द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी)  का सख्ती से पालन करना होगा।  जानकारी के लिए बता दें कि असम में एक जनवरी के बाद से सभी स्कूल में पूरी संख्या के साथ कक्षाएं जारी हैं। 

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस की रफ्तार बढ़ती जा रही हैं। देश की राजधानी दिल्ली में हालात ऐसे हो गए हैं कि  राज्य में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है। वहीं, उत्तर प्रदेश के पांच शहरों में भी 26 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन लागू कर दिया गया है।

दिल्ली और उत्तर प्रदेश दोनों ही राज्यों में कोरोना संक्रमितों की संख्या रोजाना नए रिकॉरड बना रही हैं। दिल्ली में कोरोना के 25 हजार मामले दर्ज किए गए हैं। वहीं, उत्तर प्रदेश में कोरोना के 30 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं।