असम पुलिस की फायरिंग में रेप मामले में आरोपी घायल हो गया। दरअसल आरोपी ने पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश की थी। पुलिस ने बताया कि लड़की से बलात्कार के आरोप में बुधवार को बटाद्रवा थाना क्षेत्र से व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि सीने में दर्द की शिकायत के चलते उन्हें बुधवार रात अस्पताल ले जाया जा रहा था।

ये भी पढ़ेंः PM मोदी के सपनों को लगे पंख, इस राज्य में शुरू हुआ भारत का पहला हरित हाइड्रोजन संयंत्र


एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि अस्पताल के रास्ते में दम घुटने की शिकायत कर पुलिस वाहन से नीचे उतरा और पुलिककर्मियों को धक्का देकर भागने की कोशिश करने लगा। अधिकारी ने कहा कि जब बार-बार चेतावनी के बाद भी आरोपी ने रुकने से इनकार किया तो पुलिस को गोली चलानी पड़ी, जिससे वह घायल हो गया। आरोपी का गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में इलाज चल रहा है।

ये भी पढ़ेंः जिग्नेश मेवाणी की गिरफ्तारी पर हिमंत बिस्वा सरमा का चौंकाने वाला बयान, जानिए क्या कहा ऐसा


धुबरी जिले के अगोमोनी में एक अन्य घटना में उल्फा के एक पूर्व कैडर पर गोलीबारी में शामिल लोगों को पकड़ने के लिए एक अभियान चलाया गया।  जब पुलिस ने गोली मारने वाले व्यक्ति को हिरासत में लेने की कोशिश की, तो उसने कथित तौर पर भागने का प्रयास किया। पुलिस ने कहा, हमें गोली चलानी पड़ी और जो उसके पैर में लगी। बता दें कि मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के पद संभालने के बाद कथित तौर पर हिरासत से भागने या कर्मियों पर हमला करने की कोशिश करते हुए पुलिस फायरिंग में कुल 46 लोग मारे गए और कम से कम 110 घायल हो गए।