असम में कांग्रेस के पूर्व विधायक मदन कलिता (Former Congress MLA Madan Kalita) का शुक्रवार देर रात गुवाहाटी में दिल का दौरा (heart attack) पड़ने से निधन हो गया। वह 69 वर्ष के थे।

कलिता ने करीब आधी रात को सीने में तकलीफ की शिकायत की, जिसके बाद उन्हों अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बता दें कि कलिता के परिवार में उनकी पत्नी चारु कलिता, दो बेटियां और एक बेटा है। कलिता साल 2001 में, कांग्रेस विधायक के रूप में नलबाड़ी सीट पर जीत हासिल की थी।

बता दें कि कलिता को 2006 के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी ने टिकट टिकट नहीं दिया था। 2006 और 2011 में, वह नलबाड़ी निर्वाचन क्षेत्र से नहीं जीत पाए। कलिता का जन्म 1953 में नलबाड़ी के सथामो गांव में हुआ था। उन्होंने साल 1972 में कॉटन कॉलेज से स्नातक किया था।

असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी (APCC) के अध्यक्ष भूपेन बोरा (Bhupen Bora) ने पूर्व सांसद के निधन पर शोक व्यक्त किया। नलबाड़ी जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष भी कांग्रेस के पूर्व विधायक रह चुके हैं।