असम विधानसभा चुनाव के लिए असम में डेरा डाले छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर ताबड़तोड़ हमला किया है। भूपेश बघेल ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा ने देश की जघन्य संपत्ति बेचकर देश को बर्बाद कर रह है। नामरूप गांधी मैदान में कांग्रेस के नहरकटिया प्रत्याशी प्रणति फूकन के लिए एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए भूपेश बघेल ने यह बातें कही हैं।   


भूपेश ने कहा कि “भाजपा सरकार पर लोगों का भावनात्मक शोषण किया है। भाजपा के सत्ता में आने तक कोई भी सार्वजनिक संपत्ति और उद्योग सुरक्षित नहीं हैं। वे नामरूप उर्वरक संयंत्र की चौथी इकाई स्थापित करने में विफल रहे हैं। भाजपा सरकार सार्वजनिक संपत्ति को निजी दलों को बेच रही है, ”। बघेल ने कहा कि वे केवल घोषणा करते हैं और सत्ता में आने के बाद अपने वादे भूल जाते हैं लेकिन हकीकत में भाजपा ने लोगों के लिए कुछ नहीं किया है।

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल की आलोचना करते हुए, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि असम में भाजपा सरकार "सिंडिकेट राज" में शामिल है। बघेल ने बताया कि असम में सर्बानंद सोनोवाल सरकार अपने वादों को पूरा करने में विफल रही है। "उन्होंने चाय बागानों के श्रमिकों की मजदूरी 351 रुपये तक बढ़ाने का वादा किया है, लेकिन वे पिछले पांच वर्षों में मजदूरी बढ़ाने में असफल रहे। हाल ही में, उन्होंने मजदूरी को 217 रुपये तक बढ़ा दिया लेकिन श्रमिकों को बढ़ी हुई राशि नहीं मिल रही है "।

भाजपा केवल फर्जी वादे करती है असमिया के साथ धोखा कर सीएए को लागू कर दिया है।  बघेल ने दावे के साथ कहा कि हम अपने वादे पूरे करते हैं। अगर हमारी पार्टी असम में सत्ता में आती है, तो हमारी पार्टी असम में एक रैली के दौरान राहुल गांधी द्वारा दिए गए सभी 5 गारंटी को पूरा करेंगी। बात दें कि असम के नहरकटिया निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव में भाजपा, असम जनता परिषद (AJP) और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होने की संभावना है।