असम विधानसभा चुनाव के लिए तीसरे और अंतिम चरण की वोटिंग मंगलवार (आज) को होनी है। राज्य की 40 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग होगी। बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र (बीटीआर) के तीन सहित 12 जिलों की इन सीटों पर रविवार को चुनाव प्रचार समाप्त हो गया था। तीसरे चरण में नेडा के संयोजक और राज्य के मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा सहित 337 उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम में सील हो जाएगा। इनमें 25 महिला प्रत्याशी भी हैं।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित राष्ट्रीय स्तर के कई बड़े नेताओं ने अपनी-अपनी पार्टियों के गठबंधन के उम्मीदवारों के पक्ष में यहां चुनाव प्रचार किए हैं। पीएम मोदी ने बीटीआर में कोकराझार और तामुलपुर में दो रैलियों को संबोधित किया और बोडो समझौता होने तथा भाजपा की विकास पहल को रेखांकित किया। 

भाजपा के एक अन्य स्टार प्रचारक और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने निचले असम के कई निर्वाचन क्षेत्रों में कई चुनावी रैलियों को संबोधित किया। चुनाव प्रचार के अंतिम दिन वह तीन रैलियों को संबोधित करने वाले थे, लेकिन असम की अपनी यात्रा से बीच में ही उन्हें लौटना पड़ा। छत्तीसगढ़ में माओवादी हमले के बाद वह नई दिल्ली लौट गये थे। भाजपा प्रमुख जे पी नड्डा, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, नरेंद्र तोमर, जितेंद्र सिंह, स्मृति ईरानी, मुख्तार अब्बास नकवी और अनुराग ठाकुर तथा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी पार्टी के लिए प्रचार किया। 

वहीं, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य मल्लिकार्जुन खड़गे, डॉ नासिर हुसैन और डॉ अखिलेश प्रसाद सिंह, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी प्रचार किया। इनके अलावा मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण और पार्टी के नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने भी विपक्षी 'महागठबंधन' के उम्मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार किया।