असम विधानसभा चुनाव में आज तीसरे और अंतिम चरण के लिए वोटिंग जारी है। 126 सीटों वाली विधानसभा की 40 सीटों पर मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर रहे हैं। इस बार चुनाव में मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के नेतृत्व वाले गठबंधन के बीच है। 

भाजपा के साथ असोम गण परिषद (AGP) और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (UPPL) का गठबंधन है, जबकि कांग्रेस के गठबंधन में अखिल भारतीय यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी-लेनिनवादी) लिबरेशन, आंचलिक गण मार्चा (AGM) और बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट (BPF) शामिल हैं। यह चरण भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता हिमंत बिस्वा सरमा सहित राज्य के 12 जिलों के 337 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेगा। 

तीसरे चरण में सरमा के अलावा, धरमपुर से मंत्री चंद्र मोहन पटौरी, गौहाटी पूर्व से शिक्षा मंत्री सिद्धार्थ भट्टाचार्य, और पतराचौकी से भाजपा के राज्य प्रमुख रणजीत कुमार दास भी अंतिम चरण में मैदान में हैं। बोंगईगांव से असोम गण परिषद (एजीपी) के उम्मीदवार फणीभूषण चौधरी, कोकराझार-पूर्व से बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (बीपीएफ) की प्रमिला रानी ब्रह्मा, सिदली से चंदन ब्रह्मा, और बारामा से निर्दलीय उम्मीदवार और लोकसभा सांसद नाबा हीरा कुमार मैदान में है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम में आज हो रहे विधानसभा चुनाव में मतदाताओं और खासकर युवा मतदाताओं से रिकॉर्ड संख्या में मतदान करने की अपील की है।