पूरे देश में कोरोना संक्रमण के आंकड़े तेजी से बढ़ रहे हैं। कोविड के रोजाना डराने वाले मामले सामने आ रहे हैं। इसी को देखते हुए दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश और पंजाब समेत कई राज्यों में लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू की घोषणा कर दी गई है। जहां कई राज्य सरकारों ने एहतियात के तौर पर अपने-अपने राज्यों में लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू लगा दिया है, वहीं असम में फिलहाल तालाबंदी और रात के कर्फ्यू के कोई आसार नहीं है।

असम के स्वास्थ्य मंत्री और बीजेपी नेता हिमंत बिस्वा सरमा ने राज्य में लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू को लेकर लगाए जा रहे कयासों को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि असम में फिलहाल लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू नहीं लगने वाला है।

स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा ने लोगों से अपील करते हुए कहा, ‘अगर कोरोना के किसी भी तरह के लक्षण आपको महसूस होते हैं तो आप अपना कोरोना टेस्ट करवाएं। उन्होंने कहा कि घबराने की बिल्कुल जरूरत नहीं है…हां हालांकि हमें सावधानी बरतनी चाहिए’। सरमा ने कहा कि हमारा अगले 7 दिनों में कम से कम 1 लाख कोरोना टेस्ट करने का टारगेट है ताकि बिहू धूमधाम से सेलिब्रेट किया जा सके। उन्होंने कहा कि हम बिहू उत्सव के लिए SOP भी जारी करेंगे।

इस बीच आज यानी 8 अप्रैल को असम के सीएम सर्बानंद सोनोवाल ने गुवाहाटी के मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली। वैक्सीनेशन के साथ ही उन्होंने लोगों से वैक्सीन लगवाने की भी अपील की।