असम पुलिस ने तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) में नौकरी का झांसा देकर कई लोगों को ठगने वाले एक ठग को गिरफ्तार किया। खास बात यह है कि नगांव पुलिस थाने में तैनात सब-इंस्पेक्टर जुनमोनी राभा ने ही अपने मंगेतर राणा पोगाग के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया। 

ये भी पढ़ेंः IIT गुवाहाटी असम सरकार के अधिकारियों को ड्रोन तकनीक पर प्रशिक्षित करेगा


पोगाग ने झूठा दावा किया था कि वह असम में ओएनजीसी के साथ काम कर रहा है। कंपनी में नौकरी दिलाने के नाम पर वह लोगों से पैसे मांगता था। पुलिस के मुताबिक पोगाग ने कथित तौर पर लोगों से करोड़ों रुपये ठगे। उसने असम के नागांव जिले के तैनात सब-इंस्पेक्टर जुनमोनी राभा को जनसंपर्क अधिकारी के रूप में अपना परिचय दिया। इसके बाद पिछले साल अक्टूबर में दोनों ने सगाई की और वे नवंबर में शादी करने वाले थे। हालांकि जैसे ही उसे पता चला कि वह एक ठग है, उसने प्राथमिकी दर्ज कराई।

ये भी पढ़ेंः COVID-19 खत्म हो जाने के बाद, हम CAA लागू करेंगे, वापस जाने का कोई सवाल ही नहीं : अमित शाह


राभा ने मीडिया से कहा,मैं उन तीन लोगों की आभारी हूं जो मेरे पास उसके (राणा पोगाग) के बारे में जानकारी लेकर आए कि वह कितना बड़ा धोखेबाज है। उन्होंने मेरी आंखें खोल दीं। असम पुलिस की जुनमोनी राभा जनवरी में उस समय सुर्खियों में आई थीं, जब उन्होंने बिहपुरिया के विधायक अमिय कुमार भुइयां के साथ एक कॉल के दौरान भाजपा समर्थकों का पक्ष लेने से इनकार कर दिया था।