गुवाहाटी। दिल्ली निकाय चुनावों में भाजपा की हार पर असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने अपनी राय रखी है। उन्होंने कहा है कि यदि हिमाचल और गुजरात में एकसाथ चुनाव ना होते तो बीजेपी एमसीडी चुनाव पर ज्यादा ध्यान दे सकती थी। इसके साथ ही उन्होंने यह भी दावा किया कि गुजरात चुनाव की मतगणना में भाजपा का अच्छा प्रदर्शन देखने को मिलेगा।

यह भी पढ़े : Petrol Diesel Price Today: चुनाव परिणाम के बीच आज कितना सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल? जानिए नया रेट

हालांकि, सरमा ने हिमाचल प्रदेश में पार्टी की संभावनाओं पर कोई टिप्पणी नहीं की। आम आदमी पार्टी ने दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के 250 वार्डों में से 134 पर जीत हासिल की थी। इसके साथ ही नगर निकाय में भाजपा का 15 साल का कार्यकाल समाप्त हो गया। एमसीडी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 104 वार्डों में जीत हासिल हुई, जबकि कांग्रेस ने नौ और निर्दलीय ने तीन वार्ड जीते।

एक कार्यक्रम में पहुंचे सरमा ने कहा कि एग्जिट पोल में बीजेपी के पाले में सिर्फ 60-70 सीटें दिखाई जा रही थी, जबकि पार्टी ने उससे काफी बेहतर प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा, “अगर गुजरात और हिमाचल प्रदेश में चुनाव साथ-साथ नहीं हुए होते, तो हम दिल्ली पर अधिक ध्यान केंद्रित कर सकते थे।”

यह भी पढ़े : Bypoll Election Results 2022 Live Updates:  मुलायम सिंह यादव के गढ़ मैनपुरी में डिंपल यादव आगे 

सरमा ने गुजरात और दिल्ली दोनों जगह अपनी पार्टी के लिए प्रचार किया था। बीजेपी नेता ने आगे कहा, “गुजरात से कल बहुत अच्छे नतीजे की उम्मीद है।” मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता बढ़ रही है। सरमा ने कहा, “पांच साल की अवधि के भीतर कई चुनाव हुए हैं। एक बात हम समझ सकते हैं कि मोदीजी की लोकप्रियता समय के साथ बढ़ रही है।”