असम की 126 सदस्यीय विधानसभा के चुनाव के पहले चरण की 47 सीटों के लिए मंगलवार को जारी होने वाली अधिसूचना से पहले, सोमवार को राजनीतिक दलों और उनके सहयोगी दलों के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर चर्चा हुई।

भाजपा और उसके सहयोगी दल असम गण परिषद (एजीपी) ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रंजीत कुमार दास के घर पर बैठक की। दास के अलावा बैठक में मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, पूर्वोत्तर जनतांत्रिक गठबंधन (नेडा) के संयोजक हेमंत विश्व सरमा, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव दिलीप सैकिया और पार्टी के प्रदेश संगठन महासचिव फणीन्द्र नाथ सरमा मौजूद थे।

एजीपी की ओर से बैठक में पार्टी अध्यक्ष अतुल बोरा, मंत्री केशव महंता, फणिभूषण चक्रवर्ती और राज्यसभा सदस्य वीरेंद्र प्रसाद वैश्य शामिल हुए। दास ने कहा कि यह प्रारंभिक दौर की बातचीत थी और सीटों के बंटवारे पर अंतिम निर्णय भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी द्वारा लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि पहले चरण के चुनाव के नतीजे पांच मार्च को घोषित किए जाने की उम्मीद है।

महागठबंधन में शामिल कांग्रेस, एआईयूडीएफ, बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट, भाकपा, माकपा, भाकपा माले और आंचलिक गण मोर्चा के बीच भी सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत जारी है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने विधानसभा चुनाव के लिए सोमवार को नौ सदस्य एक समिति का गठन किया। इसके अध्यक्ष पृथ्वीराज चव्हाण और कमलेश्वर पटेल तथा दीपिका पांडेय इस समिति के सदस्य हैं।