असम में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए हर दल तैयारी में लगा हुआ है। इसी बीच चुनाव की सीटों को लेकर गठबंधन पार्टियों के बीच गहन अंदरूनी कलेश चल रहा है। इसी तरह से ग्रैंड अलायंस पार्टनर्स कांग्रेस, सीट साझाकरण को लेकर AIUDF के बीच झगड़ा हो रहा है। कांग्रेस ने बदरुद्दीन अजमल के नेतृत्व वाले AIUDF को आश्वासन दिया है कि जल्द ही आम न्यूनतम कार्यक्रम पर पहुंच जाएगा। ग्रैंड अलायंस में अन्य दलों ने भी सीट व्यवस्था की योजना को जल्द पूरा करने के लिए उत्सुकता व्यक्त की है।


ग्रैंड एलायंस भागीदारों की एक महत्वपूर्ण बैठक गुवाहाटी के एक होटल में आयोजित की गई, जहां ग्रैंड एलायंस भागीदारों द्वारा सीट साझा करने का मुद्दा उठाया गया था। ग्रैंड अलायंस पार्टियों के नेताओं कांग्रेस, AIUDF, CPI, CPI-M, CPI-ML और आंचलिक गण मोर्चा (AGM) ने इस महत्वपूर्ण बैठक में हिस्सा लिया है। वाम दलों ने कहा कि वे लगभग पांच से सात सीटों के लिए लड़ रहे हैं। AIUDF के महासचिव अमीनुल इस्लाम ने कहा कि हम चाहते हैं कि सीट बंटवारे को जल्द ही अंतिम रूप दिया जाए।


चुनाव में महागठबंधन में सीट को लेकर बड़े पैमाने पर राजनीति शुरू हो गई है, जिसमें राज्य भर में गहन अभियान शुरू करने वाले दल शामिल हैं। इस वर्ष अप्रैल-मई में 126 सदस्यीय असम विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं। बता दें कि असम में अभी सत्ता में बीजेपी है और बीजेपी फिर से सत्ता में आने के लिए जनता को लुभाने के लिए कई तरह के पेतरे अपना नहीं है। हाल ही में मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कई परियोजनाओँ का उद्धाटन किया है।