गुवाहाटी। असम में रायजर दल प्रमुख अखिल गोगोई (Raisar Dal chief Akhil Gogoi) को सोमवार को विधानसभा की कार्यवाही में बाधा उत्पन्न करने के लिए बजट सत्र से निलंबित कर दिया गया। विधानसभा के अध्यक्ष विश्वजीत दैमारी ने बजट सत्र के पहले दिन राज्यपाल जगदीश मुखी (Governor Jagdish Mukhi) के अभिभाषण में बाधा पहुंचाने की कोशिश करने के लिए गोगोई को निलंबित कर दिया। 

यह भी पढ़ें- भारत उठाएगा रूस-यूक्रेन युद्ध का फायदा! खरीदेगा बेहद सस्ता पेट्रोल डीजल

राज्यपाल सदन में अपना भाषण दे रहे थे, तभी गोगोई ने सवाल किया कि राज्य में एक लाख नौकरियां कब मिलेंगी। शिवसागर विधानसभा क्षेत्र से चुने गए विधायक गोगोई ने हाथ में तख्ती लेकर भी विरोध किया। दैमारी ने उनसे आग्रह किया कि वह राज्यपाल के अभिभाषण के बाद अपनी बात रखें लेकिन उन्होंने अनसुना करते हुए अपना विरोध जारी रखा। 

यह भी पढ़ें- रूस बरसा रहा बम, यूक्रेन की यह मांग कोई नहीं कर रहा पूरा; जेलेंस्की ने दुनिया से लगाई गुहार

जिसके बाद सदन के अध्यक्ष ने तत्काल श्री गोगोई को सदन से निलंबित कर दिया। बाद में श्री गोगोई ने सदन से बाहर संवाददाताओं से कहा, 'विधानसभा में राज्यपाल का अभिभाषण स्पष्ट नीतियों और कार्यक्रमों के बगैर काफी निराशाजनक था। असम के लोगों से जुड़े मुद्दों पर कोई घोषणा नहीं किया गया।'