असम हाइड्रोकॉर्बन एंड एनर्जी कंपनी लि. (एएचईसीएल) तथा ऑयल इंडिया लि. (ओआईएल) ने नामरूप ब्लॉक में कच्चे तेल और प्राकृतिक गैस की खोज और उत्पादन के लिए करार किया है। इस सहमति ज्ञापन (एमओयू) पर सोमवार को हस्ताक्षर किए गए। 

एमओयू के तहत एएचईसीएल का ओआईएल को आवंटित नामरूप ब्लॉक में कच्चे तेल और प्राकृतिक गैस की खोज और उत्पादन में 10 प्रतिशत हिस्सा होगा। यह 125 वर्ग किलोमीटर में है। मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने एएचईसीएल को 2006 में अपनी स्थापना के बाद पहले कारोबारी उपक्रम तथा नवरत्न कंपनी के साथ भागीदारी के लिए बधाई दी। 

उन्होंने ओआईएल के अधिकारियों से राज्य सरकार संचालित सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम के कारोबारी हित तथा वृद्धि में सहयोग देने का आग्रह किया। सोनोवाल ने असम और पूर्वोत्तर में चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में कच्चे तेल और प्राकृतिक गैस की खोज और उत्पादन में सफलता के लिए सराहना की। उन्होंने पूर्वोत्तर के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाइड्रोकॉर्बन दृष्टिकोण 2030 को हासिल करने पर जोर दिया।