असम में होजई के एक अस्पताल में कोरोना मरीज की मौत के बाद परिजनों ने डॉक्टर की बुरी तरह पिटाई कर दी। मरीज की मौत के बाद परिजन उग्र हो गए और डॉक्टर सोज कुमार के साथ जमकर मारपीट की गई। डॉक्टर को गंभीर हालात में अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। डॉक्टर का दावा है कि जबतक वह मरीज के पास पहुंचे थे, तबतक उसकी मौत हो चुकी थी। इस घटना के सिलसिले में पुलिस ने 24 लोगों को गिरफ्तार किया है।

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर जानकारी दी कि इस हमले में शामिल 24 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और जल्द से जल्द चार्जशीट दाखिल की जाएगी। होजई के पुलिस अधीक्षक बरुन पुरकायस्थ ने कहा कि मरीज की हालत गंभीर थी और मंगलवार दोपहर को उदाली कोविड केयर सेंटर में उसकी मौत हो गई थी। इसके तुरंत बाद परिजन और मृतक के जानने वाले लोग वहां पहुंचे और डॉक्टर की पिटाई शुरू कर दी। सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम वहां पहुंची और जांच शुरू कर दी है।

डॉक्टर की पिटाई से इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) खासा नाराज है। आईएमए ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखकर डॉक्टर की सुरक्षा की मांग की है। ये पहला मौका नहीं है जब डॉक्टर के साथ बदसलूकी की गई हो।

आईएमए ने ये भी कहा है कि कोरोना काल में डॉक्टर्स की ओर से हर मुमकिन कोशिश की जा रही है। कोशिश की जा रही है कि किसी का कुछ नुकसान न हो और मरीजों का बेहतर इलाज किया जा सके। लेकिन स्थिति कुछ ऐसी है कि कहीं पर टेस्ट करने पहुंची मेडिकल टीम पर हमला हुआ, कहीं पर वैक्सीनेशन करने पहुंची टीम को दौड़ाकर भगा दिया जाता है।