गुवाहाटी। एशियाई विकास बैंक (ADB) ने असम के कौशल विकास मिशन के साथ राज्य में विश्वविद्यालय स्थापित करने के लिए करार किया है। यह जानकारी यहां जारी आधिकारिक विज्ञप्ति में दी गई।

इसके तहत असम कौशल विश्वविद्यालय (Skill Development University) की स्थापना बाहरी मदद प्राप्त परियोजना के तहत की जाएगी और इसके लिए वित्तपोषण एडीबी करेगा।

ऋण लेने के करार पर एडीबी के राष्ट्र निदेशक तेकियो कोनिशि और असम के कौशल विकास मिशन के निदेशक दिल खान ने शुक्रवार को हस्ताक्षर किया।

उद्योग, वाणिज्य और कौशल विकास मंत्री चंद्रमोहन पटवारी (Industries, Commerce and Skill Development Minister Chandra Mohan Patwari) ने इसे असम में कुशल मानवश्रम का कोष बनाने की योजना के लिए अहम उपलब्धि करार दिया। इस परियोजना पर करीब 14 करोड़ डॉलर खर्च आने का अनुमान है जिसमें 20 प्रतिशत हिस्सा राज्य सरकार का होगा।

मंत्री ने ट्वीट किया, ‘14 करोड़ डॉलर के निवेश से यह पूर्वी भारत में पहला सरकारी कौशल विकास विश्वविद्यालय होगा जो हमारे युवाओं को वैश्विक गुणवत्ता की कुशलता प्रदान करेगा और रोजगार और औद्योगिक विकास सुनिश्चित होगा।

एडीबी ने विश्वविद्यालय स्थापना के जरिये कौशल विकास शिक्षा और प्रशिक्षण को मजबूत करने के लिए 11.2 करोड़ डॉलर का ऋण मंजूर किया है।

राज्य सरकार ने विश्वविद्याल स्थापित करने के लिए मंगलदोई में 250 बीघा जमीन आवंटित की है और अगले साल इसका निर्माण शुरू होने की उम्मीद है। परियोजना को वर्ष 2027 में पूर्ण करने का लक्ष्य है।