असम में कोरोना वायरस मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है।  राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि गुरुवार को असम में कुल 892 नए सीओवीआईडी ​​-19 मामले दर्ज किए गए, कुल मामलों की संख्या 20,646 थी। कुल मामलों में 13,554 बरामद, 7,039 सक्रिय मामले और 50 मौतें शामिल हैं।

जानकारी के लिए बता दें कि पिछले 2 घंटे में कोरोना वायरस के एक दिन में 34 हजार नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 10 लाख के पार पहुंच गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश में इस वक्त कोरोना वायरस के  342473 एक्टिव केस हैँ। हालांकि, देश में कोरोना संक्रमितों से ज्यादा ठीक होना वालों की संख्या है। देश में अब तक कोरोना की चपेट में आए  635756  संक्रमित लोग ठीक हो गए हैं। वहीं कोरोना वायरस के कारण अब तक  25602 लोगों की मौत भी हो गई है।

असम इस समय दोहरी चुनौती से जूझ रहा है। अब तक कई लोगों की जान जा चुकी है। राज्य के कई हिस्से पहले से ही बाढ़ की चपेट में आए हुए हैं। ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर है। इसे देखते हुए पहले से ही राहत आपदा के लिए एनडीआरएफ की टीमों को तैनात कर दिया गया है।

गौरतलब है कि असम में लगभग हर साल ही बाढ़ आती है, लेकिन इस बार कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए एनडीआरएफ के जवानों के सामने चुनौतियां बढ़ गई हैं। हालांकि, चुनौतियों से निपटने के लिए एनडीआरएफ की टीम ने भी विशेष तैयारियां की हैं।

बाढ़ग्रस्त इलाकों में राहत ऑपरेशन चलाने के लिए निकले जवान खास हिदायत बरत रहे हैं ताकि वायरस के संक्रमण की चपेट में आए बिना ज्यादा से ज्यादा लोगों को बाढ़ग्रस्त इलाकों से निकाला जा सके।