असम और मेघालय में बाढ़ हालात बेकाबू हो चुके हैं। दोनों राज्यों में अब तक 16 लोगों की मौत हो चुकी है। 25 जिलों में कम से कम 11 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं, जिसमें नवगठित बजली जिला सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। अधिकारियों ने बताया कि ब्रह्मपुत्र और गौरंगा नदियों का जलस्तर कई इलाकों में खतरे के निशान से ऊपर चल रहा है। 

ये भी पढ़ेंः बाढ़ ने बराक घाटी टी इंडस्ट्री को कर दिया बर्बाद, आर्थिक संकट से जूझ रहा उद्योग


पानी ने बाढ़ प्रभावित जिलों में 19782.80 हेक्टेयर फसल भूमि को जलमग्न कर दिया है। राज्य सरकार के आंकड़ों के अनुसार, 72 राजस्व मंडलों के अंतर्गत आने वाले 1,510 गांव वर्तमान में पानी के भीतर हैं। बाढ़ प्रभावित जिलों के प्रशासन ने अलर्ट जारी कर लोगों से अपील की है कि वे अपने घरों से बाहर न निकलें जब तक कि यह बहुत जरूरी न हो या कोई मेडिकल इमरजेंसी न हो।

ये भी पढ़ेंः असम बाढ़ की तबाही से ग्रसित लोगों की मदद के लिए सत्संग बिहार के प्रतिनिधियों ने राहत कोष में दिए 1 करोड़ रुपये


राजधानी गुवाहाटी के ज्यादातर हिस्से लगातार तीसरे दिन जलजमाव के कारण ठप हो गए हैं। गुवाहाटी शहर में कई भूस्खलन भी हुए हैं, जिसमें नूनमती क्षेत्र के अजंतानगर में तीन लोग घायल हो गए हैं। बक्सा जिले में लगातार बारिश और दिहिंग नदी का जलस्तर बढ़ने से सुबनखाटा इलाके में पुल का एक हिस्सा गिर गया। एक अधिकारी के अनुसार निचले असम में रंगिया डिवीजन के नलबाड़ी और घोगरापार के बीच पटरियों पर जलभराव के बाद कम से कम छह ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है और चार आंशिक रूप से रद्द कर दी गई हैं। वहीं बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन कपूर और निर्देशक रोहित शेट्टी ने राज्य में बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए सीएम राहत कोष में 5 लाख का योगदान दिया है। मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट किया, उनकी उदारता के कार्य के लिए उन्हें धन्यवाद दिया।