पूर्वोत्तर राज्य असम उस समय सनसनी फैल गई जब जंगली जहरीले मशरूम के खाने से एक बच्चे सहित कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई। यह जानकारी अधिकारियों ने बुधवार को दी है। डिब्रूगढ़ में असम मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (एएमसीएच) के अधीक्षक प्रशांत दिहिंगिया ने बताया कि जंगली मशरूम का सेवन करने वाले ज्यादातर लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई है। उन्होंने कहा कि कई अन्य लोगों का इलाज चल रहा है।

यह भी पढ़े : राशिफल 14 अप्रैल: इन राशियों के लिए आज का दिन सर्वश्रेठ , सूर्यदेव को जल दें, काली वस्‍तु का दान करें

उन्होंने बताया कि पूर्वी असम के चराईदेव, डिब्रूगढ़, शिवसागर और तिनसुकिया जिलों के चाय बागान समुदाय के 35 लोगों को पिछले पांच दिनों में एएमसीएच में भर्ती कराया गया है, वे मशरूम खाने के बाद बीमार पड़ गए थे। भर्ती किए गए 35 में से पिछले 24 घंटों में 13 की मौत हो गई है। 

यह भी पढ़े : Happy Baisakhi 2022 wishes: अन्नदाता की खुशहाली और समृद्धि का पर्व बैसाखी आज

ऐसा बताया जा रहा है कि लोग जंगली मशरूम की पहचान नहीं कर सके। जंगली मशरूम हानिकारक और खाने लायक नहीं होती है। दिहिंगिया ने कहा कि जंगली मशरूम के सेवन के खिलाफ राज्य में जन जागरूकता जरूरी है।