ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश के अंजॉ जिले में पिछले ढाई महीने से दो युवक लापता हैं। इन लापता युवकों के नाम बेतेलम टिकरो और और बेइंग्सो मन्यु है। दोनों के लापता होने की घटना पर केस दर्ज कर लिया गया है। अरुणाचल का अंजॉ क्षेत्र भारत-चीन सीमा से जुड़ा हुआ है। लापता युवकों में से एक के बड़े भाई का कहना है कि हमें संदेह है कि उन्होंने भारतीय सीमा पार की और चीन ने उनका अपहरण कर लिया। हम केंद्र सरकार से उन्हें ढूंढने में मदद करने की अपील करते हैं।

यह भी पढ़ें- बुरे फंसे दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, अब असम की कोर्ट में पेश होने का आदेश

इस मामले पर भाजपा विधायक दासंगलू ने कहा कि वे 20 अगस्त से लापता हैं। वे जंगल में स्थानीय औषधीयों (जड़ी-बूटियों) को लेने गए थे। मामले पर एफआइआर दर्ज कर ली गई है। साथ ही उन्होंने कहा कि हमने पूर्वी अरुणाचल प्रदेश के सांसद तपीर गाओ, सीएम, डिप्टी सीएम और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से बात की है। प्रशासन और सेना द्वारा बचाव अभियान चलाया जा रहा है।

वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास अंजॉ जिले के डुइलियांग गांव के बेतेलम टिकरो और बेइंग्सो मन्यु के लापता होने की भी पुलिस सहित विभिन्न आधिकारिक एजेंसियों ने पुष्टि की है। हालांकि, उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि क्या दोनों ने वास्तव में एलएसी को पार किया है या नहीं। यह अभी तक साफ नहीं है।

यह भी पढ़ें- Lunar Eclipse 2022 November: आज किस शहर में कितने बजे दिखेगा चंद्र ग्रहण, जानें अपनी शहर की टाइमिंग


टिकरो के छोटे भाई दिशासो चिकरो ने स्थानीय मीडिया को बताया कि दोनों युवक 20 अगस्त को औषधीय जड़ी-बूटियों की तलाश में चकलागाम इलाके में गए थे और ग्रामीणों ने उन्हें आखिरी बार 24 अगस्त को देखा था।