वाराणसी/ईटानगर। पूर्वोत्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) में सीमा सड़क संगठन (BRO) में तैनात क्षेत्र के फिरोजपुर निवासी जवान का पार्थिव शरीर शुक्रवार देर रात पैतृक गांव पहुंचा। शव पहुंचते ही गांव में कोहराम मच गया। मुहम्मदाबाद के एसडीएम आशुतोष कुमार और सीओ रविंद्र कुमार वर्मा ने शनिवार को पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। जवानों को इस दौरान सलामी दी गई। फिर बाद में शव का गंगा घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया।

बता दें कि फिरोजपुर निवासी सुभाष राम (49) सीमा सड़क संगठन अरुणाचल प्रदेश में तैनात थे। 12 जनवरी को सुबह उनके सीने में दर्द हुआ। उपचार के लिए मिलिट्री हास्पिटल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उनके पार्थिव शरीर को लेकर विभागीय कर्मी पीएनआर नंदकुमार देर रात उनके पैतृक गांव पहुंचे। 

जवान के गांव में पार्थिव शरीर पहुंचने के बाद पत्नी तारामुनी देवी सहित पूरा परिवार गम में डूब गया। जवान को अंतिम विदाई देने वालों में एसडीएम आशुतोष कुमार, क्षेत्राधिकारी रविंद्र कुमार वर्मा, खंड विकास अधिकारी धर्मेंद्र कुमार, थानाध्यक्ष वागीश विक्रम सिंह, राजस्व निरीक्षक ज्ञानेंद्र ओझा, पूर्व विधायक सिबगतुल्लाह अंसारी, पूर्व विधायक पशुपतिनाथ राय, गुलाब राम, रामाश्रय यादव, श्रीकांत राम, सुरेश राम, पिंटू आदि मौजूद रहे। कुछ समय तक सुभाष राम का पार्थिव शरीर लोगों के अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। इसके बाद करीब 11. 30 बजे शव यात्रा शुरू की गई, जो सुभाष राम के पैतृक गांव फिरोजपुर से लगभग डेढ़ किलोमीटर दक्षिण गंगा घाट पर पहुंची। वहां एक बार फिर पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों और ग्रामीणों ने उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। फिर बड़े पुत्र मनोज कुमार ने उन्हें मुखाग्नि दी।