लॉकडाउन 4.0 के बाद भारत के खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने स्पष्ट कर दिया कि अब खेल संगठन इवेंट्स या टूर्नामेंट्स आयोजित करवाने के लिए भी स्वतंत्र है। इसके पहले रविवार को गृह मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइन को अगले दिन समझाते हुए उन्होंने सभी खिलाड़ियों को आउटडोर प्रैक्टिस करने की इजाजत देने की बात कही थी।


स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने लॉकडाउन के बाद खेलों की वापसी को लेकर SOP यानी स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर तैयार किया है। इसके तहत एथलीट्स छोटे ग्रुप्स में ट्रेनिंग शुरू कर सकेंगे। ग्ल्वस और मास्क पहनने के बाद ही ट्रेनिंग की इजाजत दी जाएगी।


सभी खिलाड़ी, कोच और सपोर्ट स्टाफ सोशल डिस्टेंसिंग से जुड़े नियमों का पालन करेंगे। एसओपी के मुताबिक छींकने, खांसी, सांस लेने में कठिनाई, थकान की लक्षण वाले खिलाड़ी के अभ्यास पर रोक रहेगी। किसी भी खिलाड़ी या कोच को एक-दूसरे से हाथ नहीं मिलाने के निर्देश मिले हैं।