खगड़िया जिले के अलौली थाना अंतर्गत बहादुरपुर ग्राम निवासी राजकुमार शर्मा का बीते दिनों अरुणाचल प्रदेश में उग्रवादी संगठन उल्फा (ULFA) ने अपहरण कर लिया था। राजकुमार की रिहाई के लिए जन अधिकार पार्टी (JAP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने अपनी कोशिशें तेज कर दी हैं। इस सिलसिले में उन्होंने उल्फा के कमांडर इन चीफ परेश बरुआ और अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू से बात की।

उल्फा के कमांडर से बात कर पप्पू यादव ने राजकुमार शर्मा की रिहाई की मांग की। उन्होंने कहा कि राजकुमार शर्मा बहुत गरीब है। उसका पूरा परिवार उसी पर ही निर्भर है। अगर उसे कुछ हो गया तो उसके परिवार का क्या होगा। राजकुमार को जितनी जल्द हो सकें उतनी जल्दी रिहा कर दें। इस बातचीत के दौरान परेश बरुआ ने कहा कि हमारी राजकुमार शर्मा से कोई निजी दुश्मनी नहीं है। अगर हमारी मांग ऑयल कंपनी के निदेशक ने नहीं मानी तो हम राजकुमार को जान से मार देंगे।

उल्फा कमांडर से बात करने के बाद पप्पू यादव ने कहा कि हमारी कोशिश है कि हम राजकुमार शर्मा को जल्दी रिहा कर बिहार वापस ले आएं। मुझे उम्मीद है कि उल्फा के नेता हमारी बातों को गंभीरता से लेंगे और जल्द ही कोई निर्णय करेंगे। साथ ही जाप अध्यक्ष ने अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू से भी बात की और उनसे मदद करने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए पप्पू यादव ने कहा कि राजकुमार को किडनैप हुए दो हफ्तों से ज्यादा का समय हो गया है। लेकिन, अभी तक मुख्यमंत्री ने राजकुमार को छुड़ाने का कोई प्रयास नहीं किया और ना ही उसके परिवार से मुलाकात की है।