अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर के नजदीक नाहरलगुन दैनिक बजार में मंगलवार तड़के भीषण आग लग गई। इस हादसे में 700 दुकानें जलकर खाक हो गईं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आग लगने की जानकारी तड़के करीब 4 बजे मिली। उन्होंने बताया कि यह राज्य का सबसे पुराना बाजार है और ईटानगर से करीब 14 किलोमीटर दूर नाहरलगुन में अग्निशमन केंद्र के नजदीक स्थित है।

यह भी पढ़े : राशिफल 25 अक्टूबर: आज इन राशि वालों  को होगा लाभ ये लोग रहें सतर्क, सूर्यदेव को जल अर्पित करें


पुलिस ने बताया कि संदेह है कि आग दिवाली के उत्सव के दौरान जलाए गए पटाखों या दीयों से लगी। उन्होंने दावा किया कि अग्निशमन विभाग ने तत्काल कार्रवाई की, लेकिन दुकान बांस और लकड़ी के बने हुए थे और उनमें सूखा सामान भरा था, इसलिए आग तेजी से फैली। घबराए दुकानदारों ने आग से जो बच सकता था उसे बचाने की कोशिश की, लेकिन गैर सिलेंडरों में धमाकों से आग ने विकराल रूप ले लिया।

यह भी पढ़े :  Surya Grahan Rashifal: ग्रहों की स्थिति उत्तम, सूर्य ग्रहण पर इन 3 राशियों की होगी चांदी


करोड़ों रुपये के नुकसान का अनुमान

पुलिस ने बताया कि आग को काबू करने के लिए आग बुझाने वाले 3 वाहनों को लगाया गया, जिनमें से एक ईटानगर से मंगाया गया था और घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। उन्होंने कहा कि आग से हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है। आशंका है कि करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ है। पुलिस अधीक्षक (राजधानी) जिम्मी चिराम ने कहा कि आग लगने के कारण का पता अग्निशमन विभाग की जांच के बाद ही लगेगा। 

'अग्निशमन केंद्र पर नहीं था कोई कर्मचारी'

दुकानदारों ने आरोप लगाया कि जब आग लगने की जानकारी मिली तो वे नजदीक ही मौजूद अग्निशमन केंद्र पहुंचे, लेकिन वहां पर कोई कर्मी मौजूद नहीं था। उन्होंने दावा किया कि जब अग्निशमन कर्मी आए तो आग बुझाने वाले वाहन में पानी नहीं था। दुकानदारों ने आरोप लगाया कि दमकल वाहन में पानी भरने के लिए कर्मियों को दूर जाना पड़ा और वे सुबह पांच बजे ही लौट सके, तब तक आग से बाजार का अधिकतर हिस्सा जलकर खाक हो चुका था। 

यह भी पढ़े : वर्षों बाद गोवर्धन पूजा वाले दिन बना यह खास संयोग, जानिए गोवर्धन पूजा के विशिष्ट मुहूर्त


'पुलिस पर भी कार्रवाई नहीं करने का आरोप'

नाहरलगुन बाजार कल्याण समिति के अध्यक्ष किपा नाई ने कहा, 'पुलिस ने भी कार्रवाई नहीं की। सभी को अपना कर्तव्य निर्वहन करने में असफल रहने के कारण बर्खास्त किया जाना चाहिए।' दुकानदारों से बातचीत के बाद अरुणाचल चेम्बर ऑफ कॉमर्स ऐंड इंडस्ट्रीज (एसीसी ऐंड आई) के अध्यक्ष तारा नाचुंग ने कथित लापरवाही के लिए सभी अग्निशमन कर्मियों को निलंबित करने की मांग की। ईटानगर के विधायक तेची कासो ने कहा कि बाजार का पुनर्निर्माण राज्य सरकार और एसीसी ऐंड आई के सहयोग से किया जाएगा।