अरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश की वजह से भूस्खलन के कारण एक ही परिवार के 3 लोग जिंदा मलबे में दफन हो गए। यह घटना चीन बॉर्डर के पास कुरंगु कुमे जिले के सुलुंग टपिंग गांव की है। दरअसल, राज्य में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश हो रही है। डिप्टी कमिश्नर बेंगिया निगी ने बताया कि पीड़ितों में 50 वर्षीय सरयू तोंगडांग, उनकी पत्नी 48 वर्षीय सरयू याजिक और उनका आठ वर्षीय बेटा सरयू ताकर शामिल हैं। इस हादसे में दो अन्य लोग बाल-बाल बच गए हैं। फिलहाल दबे हुए शवों की तलाश की जा रही है।

यह भी पढ़ें : अरुणाचल प्रदेश में अब 12 दिनों तक रहेगी धूम, 1 मई से शुरू हो रहा ट्रांस ड्राइव इवेंट

बता दें, इस क्षेत्र में 17 अप्रैल से लगातार बारिश हो रही है। जिस वजह से कई जगह भूस्खलन भी हुआ है। इस कारण क्षेत्र में बिजली और पानी की आपूर्ति भी बाधित हुई है। साथ ही कई रोड इस वजह से बंद भी कर दिए गए हैं ताकि कोई बड़ा हादसा ना हो जाए। मृतकों के रिश्तेदार ने बताया कि हादसा रात के समय हुआ है। सभी लोग घर पर ही मौजूद थे तभी भूस्खलन के कारण उनके घर के तीन सदस्य जिंदा ही मलबे के नीचे दफन हो गए।

यह भी पढ़ें : मिजोरम में तूफान का कहर, एक ही झटके में उजड़ गए 200 से ज्यादा घर

लोअर कोलोरियांग के जिला परिषद सदस्य बेंगिया ताशी ने बताया कि भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन के कारण बीस से अधिक घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं। उन्होंने आपदा प्रबंधन विभाग से नुकसान का सर्वेक्षण करने का आग्रह किया और प्रशासन से उन गरीब परिवारों के लिए राहत और पुनर्वास पैकेज प्रदान करने की अपील की, जिनके पास नुकसान के बाद अब रहने के लिए घर नहीं हैं।