केन्द्रीय कानून मंत्री किरण रिजीजू (kiren rijiju) ने उत्तर प्रदेश में पूर्ववर्ती अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) सरकार में कानून व्यवस्था चौपट होने और कब्जा करने वालों का बोलबाला होने का अपना निजी अनुभव साझा करते हुये बताया कि पिछली सरकार में उनके अपने गुरु जी की संपत्ति पर कब्जा हुआ और बतौर केन्द्रीय मंत्री वह कुछ नहीं कर पाये। 

रिजिजू ने यहां आयोजित अधिवक्ता समागम (advocate conference) में बताया कि 2014 में उनके गुरु जी की जमीन पर कब्जा होने पर उन्होंने जब संबद्ध पुलिस अधिकारी से बात की मगर फिर भी कुछ नहीं हो सका। उन्होंने बताया, मैं अरुणाचल प्रदेश (Arunachal) का रहने वाला हूं, जहां से सूर्य का उदय होता है। मेरे गुरु उत्तर प्रदेश के रहने वाले शिक्षक थे। कुछ माफियाओं (mafia in UP) ने 2014 में मेरे गुरुजी की ही जमीन पर कब्जा कर लिया। कानून मंत्री ने बताया, उस समय मैं केंद्र सरकार में मंत्री था। मैंने जिस पुलिस अफसर को फोन कर गुरु जी की मदद करने का अनुरोध किया तो उस समय की सरकार ने उस पुलिस अधिकारी का ही तबादला कर दिया। बाद में जब प्रदेश में भाजपा सरकार बनी तब मैं अपने गुरुजी को जमीन वापस दिला पाया। 

रिजीजू (kiren rijiju) ने कहा कि पहले की सरकार और अब की सरकार में इसी फर्क की बात अब लोग महसूस कर रहे है। लोग यह महसूस कर रहे हैं कि भू माफियाओं का तब कितना बोलबाला था। उन्होंने कहा कि अगर उत्तर प्रदेश आगे बढ़ेगा तो देश भी प्रगति करेगा, इसीलिये उत्तर प्रदेश को प्रगति के पथ पर ले जाने वाली योगी सरकार, राष्ट्रीय विकास को आगे बढ़ाने के लिये फिर से सत्ता में वापसी करेगी। रिजिजू ने कहा कि उत्तर प्रदेश में वर्ष 2017 के बाद कानून व्यवस्था फिर से पटरी पर लौटी है। उन्होंने कहा कि इससे पहले हालात इतने खराब थे कि जबरन कब्जा तथा संगठित अपराध से पूरा प्रदेश त्रस्त था। उन्होंने कहा कि पिछले दौर को प्रदेश की जनता भूली नहीं है और पिछले पांच साल में सुशासन को महसूस करने के बाद जनता ने योगी सरकार (Yogi Adityanath) का फिर प्रदेश में ‘अरुणोदय’ करने का पूरा मन बना लिया है। 

इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक (Law Minister Brajesh Pathak) ने कहा कि आज प्रदेश में अपराधी व अराजक तत्व जेल में हैं। आम आदमी को कानून व्यवस्था पर विश्वास बढ़ रहा है। सदियों के काम जो पड़े थे आज पूरे हो रहे है। उन्होंने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मन्दिर का निर्माण हो रहा है। ब्रम्होस मिसाइल (BrahMos Missile) लखनऊ में बनाई जा रही। इस अवसर पर प्रदेश के महाधिवक्ता राघवेंद्र सिंह ने कहा कि सरदार पटेल व वीर सावरकर जैसे अधिवक्ताओ ने भारत में जन जागरण किया और संस्कृति का उत्थान किया। उन्होंने कहा कि कुछ लोग झूठ का सहारा लेकर सत्ता पाने के इच्छुक है, लेकिन यह उनका सपना है।