अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) डॉ. बीडी मिश्रा (Governor BD Mishra) और मुख्यमंत्री पेमा खांडू (Pema Khandu) ने राजभवन में सुरक्षा एजेंसियों के उच्च अधिकारियों के साथ राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों में चल रही बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के बारे में चर्चा की है। उन्होंने कहा कि बॉर्डर इलाकों में उच्च स्तरिय विकास होना चाहिए।

डॉ. बीडी मिश्रा (Governor BD Mishra) ने कहा कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार सीमावर्ती क्षेत्रों के विकास को उच्च प्राथमिकता दे रही है और कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों के गांवों को आर्थिक रूप से जीवंत होना चाहिए और अच्छी सड़कें, स्कूल, चिकित्सा सुविधाएं और विश्वसनीय नेटवर्क संचार होना चाहिए।

मिश्रा (BD Mishra) ने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थानीय लोगों के आर्थिक विकास और सीमाओं की सुरक्षा को बनाए रखने के लिए सड़कों, पुलों, सुरंगों और पटरियों को उच्चतम स्तर का होना चाहिए। इसी के साथ सड़क निर्माण के सर्वोत्तम तकनीकी और वैज्ञानिक तरीकों का पता लगाने की सलाह दी।
4 कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग (GoC) लेफ्टिनेंट जनरल रविन खोसला, नॉर्थ ईस्ट फ्रंटियर मुख्यालय के भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के महानिरीक्षक, श्याम मेहरोत्रा, ITBP के वरिष्ठ DIG SP सिंह और दीपक संधूजा और राज्य योजना और निवेश आयुक्त प्रशांत लोखंडे अन्य लोगों के साथ बैठक में मौजूद रहे।