अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने प्रदेश में कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए पूरा प्रयास करने का आह्वान किया। उल्लेखनीय है कि अरुणाचल प्रदेश कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त है और राज्य के लोहित जिले में मिला एकमात्र कोविड-19 मरीज को भी 17 अप्रैल को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। 

अपने गृह जिले तवांग में कोविड-19 को लेकर तैयारियों की समीक्षा करते हुए खांडू ने कहा कि देश में बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य को हर परिस्थिति के लिए तैयार रहना चाहिए। बैठक के दौरान खांडू ने कहा कि इस स्तर की तैयारियां प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से शत प्रतिशत रोकने के लिए होनी चाहिए। अगर संक्रमण को नियंत्रित नहीं किया गया तो राज्य सरकार की नाकामी होगी।

गौरतलब है कि भारत में कोरोनावायरस महामरी से संक्रमित हुए लोगों का आंकड़ा बढकऱ 1 लाख 25 हजार से अधिक हो गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस बात की जानकारी दी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को अपनी नवीनतम रिपोर्ट में कहा, देश में अब तक 1 लाख 25 हजार 101 लोग कोविड-19 संक्रमण से संक्रमित हुए हैं, जिनमें से 3 हजार 720 लोगों की मौत हो गई है। मंत्रालय ने आगे कहा, वर्तमान में 69 हजार 597 लोग कोरोना महामारी से ग्रस्त हैं, जबकि उपचार के बाद पूर्ण रूप से स्वस्थ हुए कुल 51 हजार 783 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम देश मे अब भी कोरोना मुक्त राज्य बने हुए हैं। वहीं, आंध्र प्रदेश में 55 मौतों के साथ ही कोरोना के मामलों की संख्या शनिवार सुबह तक 2 हजार 709 रही, जिनमें से स्वस्थ होने के बाद 1 हजार 763 को अस्पताल से छुट्टी दी गई। असम में कोरोना पीडि़तों की संख्या 259 हो गई है, जिनमे से 54 को उपचार के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। राज्य में 4 मौतें हुई हैं।