अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के बसर में आज सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) ने बताया कि भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.4 मापी गई है। इस बीच राहत की बात यह है कि अभी तक किसी भी प्रकार के नुकसान की कोई खबर सामने नहीं आई है। हालांकि एक अक्टूबर के बाद यह दूसरा मौका है जब जिले में भूकंप आया है।

इससे पहले 2 अक्टूबर को भी जिले में 4.1 तीव्रता का भूकंप आया था। भूकंप विज्ञान के लिए राष्ट्रीय केंद्र (National Center for Seismology) ने भूकंप की जानकारी देते हुए कहा कि भूकंप सुबह 10 बजकर 15 मिनट पर आया था।

मालूम हो कि इससे पहले भी अरुणचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) में कई बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं। इससे पहले 19 सितंबर 2021 को प्रदेश में कंपन किए गए थे। इस दौरान रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.4 मापी गई थी। 19 सितंबर को आने वाला भूकंप दोपहर के 3 बजकर 6 मिनट पर आया था। हालांकि, इस दौरान किसी भी जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं आई थी।

पृथ्वी कई लेयर में बंटी होती है और जमीन के नीचे कई तरह की प्लेट होती है। ये प्लेट्स आपस में फंसी रहती हैं, लेकिन कभी-कभी ये प्लेट्स खिसक जाती है, जिस वजह से भूकंप आता है। कई बार इससे ज्यादा कंपन हो जाता है और इसकी तीव्रता बढ़ जाती है। भारत में धरती के भीतर की परतों में होने वाली भोगौलिक हलचल के आधार पर कुछ जोन तय किए गए हैं और कुछ जगह यह ज्यादा होती है तो कुछ जगह कम।

इन संभावनाओं के आधार पर भारत को 5 जोन बांटा गया है, जो बताता है कि भारत में कहां सबसे ज्यादा भूकंप आने का खतरा रहता है। इसमें जोन-5 में सबसे ज्यादा भूकंप आने की संभावना रहती है और 4 में उससे कम, 3 उससे कम होती है।