अरुणाचल प्रदेश में कोरोना महामारी से संक्रमित 103 नए मामले पाए जाने के बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2,430 हो गई है। राज्य स्वास्थ्य सेवा निदेशालय द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार कुल 103 नए मामलों में से 37 मामले लोहित, 22 कामेंग, 10 ईटानगर कैपिटन कॉम्पलेक्स, आठ पश्चिम कामेंग, सात ईस्ट सियांग, तवांग और लोअर सियांग से चार-चार, चांगलांग से तीन, नमसाई और पपुम पारे से दो-दो, लोअर दिबांग घाटी, वेस्ट सियांग, अपर सिंयाग और लोंगडिंग से एक-एक मामले संक्रमित पाए गए हैं।

स्वास्थ्य निदेशालय की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार राज्य में एक मामले को छोड़कर अन्य सभी नए मामलों में कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए हैं। राज्य में कोरोना के कल 25 रोगियों के ठीक होने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी। अरुणाचल प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस से कुल 2430 मरीज संक्रमित है, जिनमें से 768 मामले सक्रिय हैं और 1659 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है, जबकि इस महामारी के संक्रमण से तीन लोगों की जान जा चुकी है। 

गौरतलब है कि देशभर में कोरोना वायरस कोविड-19 की जांच करने वाली प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़कर 1,433 हो गयी है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की ओर से गुरुवार को जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण की जांच करने वाली प्रयोगशालाओं की सूची में 12 नाम और जुड़ गये हैं। इनमें सरकारी 947 और निजी प्रयोगशालाएं 486 हैं। इस समय आरटी पीसीआर आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं 733 (सरकारी: 434 , निजी: 299) है जबकि ट्रूनेट आधारित परीक्षण प्रयोगशालाओं की संख्या 583 (सरकारी: 480, निजी: 103) और सीबीएनएएटी आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं 117 (सरकारी: 33, निजी: 84) हैं। इन 1,433 प्रयोगशालाओं ने 12 अगस्त को रिकॉर्ड 8,30,391 नमूनों की जांच की। 

इस तरह अब तक कुल 2,68,45,688 नमूनों की जांच की जा चुकी है। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक 66,999 नये मामले सामने आये हैं, जिससे अब तक संक्रमण का शिकार हुए व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 23,96,637 हो गयी है। इस दौरान हालांकि कुल संक्रमितों में 16,95,982 व्यक्तियों के रोगमुक्त होने और 47,033 मरीजों की मौत होने से देश में संक्रमण के सक्रिय मामले 6,53,622 ही हैं। उल्लेखनीय है कि देश में 23 जनवरी तक केवल पुणे की एक प्रयोगशाला में कोरोना वायरस जांच की सुविधा थी लेकिन अब देशभर की 1,433 प्रयोगशालाएं कोरोना वायरस संक्रमण की जांच करने में जुटी हैं।