ईटानगर: केंद्र सरकार ने बुधवार को अरुणाचल प्रदेश के ईटानगर के पास होलोंगी में ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे के नामकरण को डोनी पोलो हवाई अड्डे के रूप में मंजूरी दे दी। केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा, "(केंद्रीय) कैबिनेट ने अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर के होलोंगी में ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे का नामकरण डोनी पोलो हवाई अड्डे ईटानगर के रूप में करने को मंजूरी दी।"

यह भी पढ़े :  बदरुद्दीन अजमल राज्य में बीजेपी के एजेंट के तौर पर काम कर रहे हैं : जितेंद्र सिंह 


इससे पहले अरुणाचल प्रदेश सरकार ने ईटानगर के पास होलोंगी ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे के नामकरण को "डोनी पोलो हवाई अड्डे, ईटानगर" के रूप में नामित करने को भी मंजूरी दी थी। हवाई अड्डा 660 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से 685 एकड़ क्षेत्र में बनाया गया है।

यह भी पढ़े :  Dev Uthani Ekadashi Vrat Katha : मनोकामना पूरी करता है ये व्रत , इस कथा का पाठ जरूर करें


अरुणाचल प्रदेश में डोनी पोलो हवाईअड्डा आठ चेक-इन काउंटरों के साथ व्यस्त समय के दौरान 300 यात्रियों को समायोजित कर सकता है। हवाई अड्डा एयरबस-320 प्रकार के विमानों के संचालन के लिए उपयुक्त है।

हाल ही में वाणिज्यिक एयरलाइंस की दिग्गज कंपनी - इंडिगो ने अरुणाचल प्रदेश में ईटानगर के पास होलोंगी में नवनिर्मित डोनी पोलो हवाई अड्डे पर उड़ान लैंडिंग का सफल परीक्षण किया था। इंडिगो एयरलाइंस ने अरुणाचल प्रदेश में ईटानगर के पास होलोंगी में डोनी पोलो हवाई अड्डे पर अपने एयरबस ए 320 की सफलतापूर्वक परीक्षण लैंडिंग की।

यह भी पढ़े : Aaj ka Rashifal November 3 : आज इन राशि वालों को मिल सकती है गुड न्यूज़ ,शनिदेव की अराधना करें


अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने डोनी पोलो हवाई अड्डे पर परीक्षण लैंडिंग को "मील का पत्थर" बताया था। होलोंगी में डोनी पोलो हवाई अड्डा अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर से सिर्फ 15 किमी दूर स्थित है। अरुणाचल प्रदेश में ईटानगर के पास होलोंगी में डोनी पोलो हवाई अड्डे में बोइंग 747 जैसे बड़े विमानों को उतारने की क्षमता है।