अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और पिछले आठ वर्षों में उनके शासन के अंतर्गत राज्य में हुए सभी विकास कार्यों से प्रधानमंत्री को अवगत कराया। यह जानकारी आधिकारिक सूत्रों ने दी। 

ये भी पढ़ेंः अरुणाचल में चीनी घुसपैठ को लेकर पेमा खांडू का जवाब, कहा- राहुल गाँधी को ज्ञान नहीं


प्रधानमंत्री को राज्य की दो महत्वपूर्ण परियोजनाओं की जानकारी देते हुए खांडू ने कहा कि मेरा सौभाग्य है कि मैं ईटानगर में ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे के ड्रीम प्रोजेक्ट के पूरा होने की सूचना दे रहा हूं। डीजीसीए ने सात सितंबर 2022 को इसके परिचालन के लिए आवश्यक लाइसेंस प्रदान कर दिया है। अब यह हवाई अड्डा राष्ट्र की सेवा करने के लिए तैयार है। अरुणाचल प्रदेश की जनता की ओर से खांडू ने प्रधानमंत्री को इस उल्लेखनीय उपलब्धि को हासिल करने में मार्गदर्शन और समर्थन के लिए धन्यवाद दिया। ग्रीनफील्ड हवाई अड्डा सीमावर्ती राज्य अरुणाचल प्रदेश का पहला हवाई अड्डा है, जिसमें बोइंग 747 जैसे बड़े विमानों को भी उतारने की क्षमता है। खांडू ने कहा कि इस हवाई अड्डा के शुरू होने से अरुणाचल प्रदेश सीधे दिल्ली से जुड़ जाएगा। यहां के लोगों का बहुत पुराना सपना था कि वे भारत के हवाई मानचित्र में अपने राज्य की राजधानी को देखें जो सपना अंतत: पूरा हो गया है। 

ये भी पढ़ेंः राज्य में किसी भी तरह का भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करेंगे: सीएम खांडू


उन्होंने प्रधानमंत्री को यह भी बताया कि 600 मेगावाट की क्षमता वाली कामेंग जल विद्युत परियोजना सफलतापूर्वक चालू हो चुकी है जिसकी लागत लगभग 8000 करोड़ रुपये है और यह पूर्वोत्तर की सबसे बड़ी जल विद्युत परियोजना है। सूत्रों के अनुसार खांडू ने प्रधानमंत्री से अपनी सुविधा के अनुसार राज्य का दौरा करने और इन दो महत्वपूर्ण परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित करने का अनुरोध किया। प्रधानमंत्री मोदी ने उनका निमंत्रण स्वीकार किया और खांडू से कहा कि अरुणाचल प्रदेश की उनकी यात्रा की तारीख के बारे में पीएमओ से उन्हें सूचना दी जाएगी।