अरुणाचल प्रदेश में कोरोना के 426 नए मामले सामने आए, वहीं 497 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। ये एक दिन में रिपोर्ट किए गए अब तक के सबसे अधिक केस हैं। मौत के 2 नए नया केस सामने आने के बाद, मृतकों की संख्या 179 हो गई है। जिसके बाद कोरोना के कुल मामलों की संख्या 37, 531 तक पहुंच गई है।

राजधानी परिसर क्षेत्र ने सबसे अधिक 96 ने नए संक्रमणों की सूचना दी, इसके बाद पूर्वी सियांग (56), पश्चिम कामेंग (44), ऊपरी सुबनसिरी (34), लोहित (32), निचली दिबांग घाटी (21), पापुमपारे (17) हैं। वेस्ट सियांग (16), चांगलांग (14) और सियांग (13), जम्पा ने कहा। राज्य में अब 3,118 सक्रिय मामले हैं, जबकि 34,234 मरीज इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं। सकारात्मकता दर और रिकवरी दर 7.29 प्रतिशत और 91.21 प्रतिशत है।

जम्पा ने कहा कि राज्य में कोविड ​​​​-19 के लिए कुल 7,90,027 सैंपल की जांच की गई, जिसमें  5,840 सैंपल की जांच सोमवार को की गई शामिल हैं। इस बीच, मुख्यमंत्री पेमा खांडू को मंगलवार को यहां एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कोविड वैक्सीन की दूसरी खुराक मिली। पेमा खांडू ने टीट करके इसकी जानकारी दी। राज्य टीकाकरण अधिकारी दिमोंग पदुंग ने कहा कि अब तक कुल 6,49,534 लोगों को टीका लगाया जा चुका है।

वहीं कल जानकारी के मुताबिक, 168 लोगों ने संक्रमण के लिए सकारात्मक परीक्षण किया था। मौत का एक नया केस सामने आने के बाद, मृतकों की संख्या 177 हो गई है। राज्य निगरानी अधिकारी (एसएसओ) डॉ लोबसंग जम्पा ने कहा कि रविवार को यहां पास के कोविड अस्पताल में कोविड निमोनिया के साथ हार्ट संबंधी समस्या के कारण एक 78 वर्षीय महिला की मौत हो गई।

वहीं, अधिकारियों ने कहा कि बैठक में प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक स्वास्थ्य सुविधा को आवश्यक उपकरणों से उन्नत करने के लिए एक स्वास्थ्य सुविधा की पहचान करने का भी निर्णय लिया गया। जीरो, तवांग, तेजू, यिंगकिओंग, सेपा और आलो में छह 100 लीटर प्रति मिनट (LPM) पीएसए संयंत्रों को अपग्रेड करने के अलावा जुलाई तक एक हजार ऑक्सीजन बेड बनाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।

बैठक में चिंपू के डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल (DCM) में 500 एलपीएम प्रेशर स्विंग एडॉर्प्शन (PSA) ऑक्सीजन प्लांट को चालू करने के अलावा, 19 अस्पतालों में 600 एलपीएम प्लांट लगाने और लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (LMO) स्टोरेज यूनिट्स को मंजूरी देने पर सहमति बनी।