भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर इस समय टकराव जारी है। इस टकराव के दौरान ही पिछले दो दिनों से असम और अरुणाचल प्रदेश के लोगों के बीच भी दहशत का माहौल था। इस दहशत की वजह थी एक न्‍यूज रिपोर्ट जो असम के एक न्‍यूज पोर्टल में आई थी। 

इस रिपोर्ट में कहा गया था कि सेना की तरफ से अरुणाचल प्रदेश और असम में एलएसी के करीब स्थित गांवों को खाली करने के लिए कहा गया है। सेना ने रिपोर्ट को झूठा बताते हुए इसे फेक न्‍यूज करार दे दिया है।

बुधवार को असम के तेजपुर स्थित डिफेंस पीआरओ की तरफ से इस खबर को लेकर स्थिति स्‍पष्‍ट की गई है। सेना की तरफ से कहा गया है कि असम और अरुणाचल प्रदेश में एलएसी के करीब स्थित गांवों को खाली करने का कोई आदेश नहीं दिया गया है। सेना की तरफ से अरुणाचल प्रदेश और असम की जनता से ऐसी अफवाहों पर ध्‍यान न देने के लिए कहा गया है। डिफेंस पीआरओ की तरफ से कहा गया है कि इस तरह की खबरें पूरी तरह से झूठी और मनगढ़ंत हैं और इस तरह की कोई भी जानकारी लोगों के साथ साझा करने से पहले एक बार अथॉरिटीज से संपर्क जरूर कर लिया जाए।